Now Reading
प्रेम और मानवता की भावना से बढ़कर कुछ नहीं

प्रेम और मानवता की भावना से बढ़कर कुछ नहीं

प्रेम और मानवता की भावना से बढ़कर कुछ नहीं

हमारे देश में अलग-अलग जाति, भाषा, धर्म और समुदाय के लोग आपसी भाईचारे के साथ रहते है। एक-दूसरे के त्योहार मनाने से लेकर हर सुख-दुख में एक दूसरे का साथ देने की हम भारतीयों की भावना ही तो इतनी विभिन्नताओं के बाद भी देश को अखंड बनाती है। इसलिये तो कहते हैं कि यहां अनेकता में एकता है। हाल ही में इंसानियत की ऐसी ही मिसाल पेश की एयर इंडिया ने।

एयर इंडिया का काबिले तारीफ काम

हम भारतीयों में इतना प्यार है कि हम नफरत को भी प्यार में बदल देते हैं और हम जाति, धर्म से परे इंसानों से प्यार करते हैं। हमारे देश में ऐसी कई जगहें हैं, जहां अलग-अलग धर्म और समुदाय के लोग बहुत प्यार से साथ रहते हैं और उनमें किसी तरह का मनमुटाव नहीं है। हाल ही में मानवता की अनोखी मिसाल एयर इंडिया विमान ने भी पेश की, जिसके लिये उसकी खूब वाहवाही भी हुई। दरअसल, गोरखपुर से दिल्ली की फ्लाइट में एक मुस्लिम यात्री ने एयर होस्टेस से पानी मांगा और बदले में उसने जो दिया, उससे हर कोई एयर इंडिया की तारीफ कर रहा है।

प्रेम और मानवता की भावना से बढ़कर कुछ नहीं
सच्ची सेवा कर, की मिसाल कायम  | इमेज : फाइल इमेज

रोज़ेदार को दिया पानी और खाना

पेशे से पत्रकार रिफ्त जावेद रमज़ान के दौरान एयर इंडिया की फ्लाइट से सफर कर रहे थे। इफ्तार का समय होने वाला था, तो उन्होंने एयर होस्टेस से पानी मांगा। जावेद को इतनी प्यास लगी थी कि उन्होंने तुरंत पानी की बोतल खाली कर दी और एक और पानी की बोतल मांगी और बताया कि उनका रोज़ा है। इसके बाद एयर होस्टेस उनके लिये पानी के साथ ट्रे में कुछ सैंडविच लेकर आई। ये देखकर जावेद हैरान तो हुये है, साथ ही एयर होस्टेस के इस व्यवहार ने उनका दिल जीत लिया। इस घटना को उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया जिसके बाद से लोग एयर होस्टेस और एयर इंडिया की जमकर तारीफ करने लगे।

मानव सेवा है सर्वोपरि

आज के दौर में वाकई एयर इंडिया का यह कदम सबके लिए एक मिसाल है। इस घटना से सबको सबक लेना चाहिये ताकि हम सब बिना किसी भेदभाव के हर ज़रूरतमंद इंसान की मदद कर सकें। किसी की मदद करना और अपने आसपास के लोगों से प्रेम करना, यही तो मानव सेवा है।

और भी पढ़े: आर्ट थेरेपी- स्ट्रैस दूर करने का अनोखा तरीका

अब आप हमारे साथ फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©2019 ThinkRight.me. All Rights Reserved.