Now Reading
सेहतमंद आदतें, जो दिमाग को रखें हेल्दी

सेहतमंद आदतें, जो दिमाग को रखें हेल्दी

सेहतमंद आदतें, जो दिमाग को रखें हेल्दी

जब हम सेहतमंद रहने की बात करते है, तो आमतौर पर हमारा मतलब सिर्फ फिज़िकल हेल्थ से होता है, जबकि हम यह भूल जाते हैं कि मेंटल हेल्थ भी उतनी ही महत्वपूर्ण है। योग और मेडिटेशन के ज़रिये तो मेंटल हेल्थ को ठीक रखा ही जा सकता है, इसके अलावा मानसिक स्वास्थ्य के लिए कुछ और बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता है।

हेल्दी फैट्स को करें डाइट में शामिल

बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए डाइट में हेल्दी फैट्स का होना ज़रूरी है। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जो आपके ब्रेन को हेल्दी रखता है। एवाकाडो, ऑलिव्स और अखरोट ओमेगा 3 फैटी एसिड के अच्छे स्रोत हैं। कई अध्ययन से भी यह साबित हो चुका है कि हेल्दी फैट मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखता है।

प्रोटीन है ज़रूरी

प्रोटीन सिर्फ आपके बालों और स्किन के लिये ही नहीं, बल्कि ब्रेन को हेल्दी रखने के लिये भी ज़रूरी है। मज़बूत मसल्स के लिए रोज़ाना 30 ग्राम प्रोटीन का सेवन ज़रूरी है क्योंकि जब आपके मसल्स कमज़ोर होते हैं, तो इसका प्रभाव दिमाग पर गहरा पर पड़ता है। इसलिये प्रत्येक भोजन में प्रोटीन को शामिल करें। प्रोटीन शेक, नट बटर और प्रोटीन से भरपूर अन्य चीज़ें खायें।

सेहतमंद आदतें, जो दिमाग को रखें हेल्दी
हेल्दी ब्रेन के लिये डॉक्टर्स का सीक्रेट  | इमेज : फाइल इमेज

कलरफुल फूड

कलरफुल सब्ज़ियां और फलों को भी अपने भोजन में रखें। ये ब्रेन को हेल्दी रखने वाले सुपरफूड माने जाते हैं। आपकी खाने की प्लेट का 75 फीसदी हिस्सा कलरफुल फल और सब्ज़ियों का होना चाहिये। ब्लूबेरी, सेब, संतरा, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां और अन्य सीज़नल फल और सब्ज़ियों को डेली डाइट में लें।

शक्कर से दूरी

शक्कर शारीरिक और मानसिक दोनों के लिये हानिकारक है। हाई शुगर वाली चीज़ों के साथ ही, हाई फ्रक्टोज़ कॉर्न सिरप, ट्रांप फैट, प्रिज़र्वेटिव्स आदि से भी परहेज़ करें। यदि आपको मीठा बहुत पसंद है, तो ऐसी चीज़ें खायें जिसमें शक्कर की बजाय, गुड़, शहद, खजूर आदि की मिठास हो।

वर्कआउट

वर्कआउट सिर्फ शरीर को ही फिट नहीं रखता, बल्कि यह यदादाशत बढ़ाने, पढ़ने की क्षमता और कॉन्संट्रेशन बढ़ाने में मदद करता है। कसरत करने से मूड अच्छा रहता है और आप एनर्जेटिक महसूस करते हैं, साथ ही यह तनाव दूर करके आपके दिमाग को शांत रखता है। यानी बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिये एक्सरसाइज़ बहुत ज़रूरी है।

ब्रेक टाइम

लगातार काम करने से जैसे आपका शरीर थक जाता है, वैसे ही दिमाग भी थकता है और उसे आराम की ज़रूरत होती है। दिन के कुछ समय दिमाग को रिलैक्स करें। मेडिटेशन एक कारगर तरीका है, वैसे आप चाहें तो कोई अन्य तरीका भी सीख सकते हैं।

और भी पढ़े: लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©2019 ThinkRight.me. All Rights Reserved.